India

‘अरे, मेरेभाई सच में नहीं आया, नहीं तो ब्रेक न मारता ‘: अहमदाबाद में तथ्य पटेल ने १२० की स्पीड से कार चलाई और 9 लोगो की जान ले ली

Ahmedabad: बुधवार रात अहमदाबाद में इस्कॉन ब्रिज पर एक जगुआर कार ने फुटबॉल की तरह लोगो को उछालकर जाना ले ली. जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई. घटना के बाद लोगों ने जगुआर ड्राइवर तथ्य पटेल की जमकर धुनाई की. फिर तथ्य पटेल का एक और वीडियो सामने आया है. जिसमें ताथी घायल हालत में पुलिस वैन में चढ़ने की सीढ़ी पर बैठा है. बाद में जब लोग पूछते हैं कि कार सही गति पर थी या नहीं.

तो सच्चाई यह है कि हाँ,कार 120 पर थी। तो एक आदमी कहता है, “बोलो”, सच है या नही, तब तथ्य कहता है की “अरे भाई, मैंने सच में नहीं देखा, वरना मैं ब्रेक नहीं लगाता।” इस वीडियो के सामने आने के बाद गमख्वार हादसे की गंभीरता का पता चल सकता है. इस वीडियो की भी पुलिस जांच कर रही है.

अहमदाबाद के इस्कॉन ब्रिज पर हुए हादसे का आरोपी तथ्य पटेल बेशरम की तरह बिंदास थाने आया. उसके चेहरे पर कोई अफसोस नहीं था. पिता-पुत्र दोनों एक ही जगह मौजूद थे. दोनों आपराधिक मानसिकता के थे. शहर का सबसे बड़ा हादसा बुधवार आधी रात इस्कॉन ब्रिज पर हुआ। इस हादसे में एक नहीं बल्कि नौ लोगों की मौत हो गई. दुर्घटना घटना के बाद हादसे के कुछ वीडियो सामने आए हैं जिनमें लोगों की लाशें दिख रही है.

सड़क पर कार के बोनट पर शव पड़े थे. इन सबके बीच आरोपी तथ्या पटेल को उसका अपराधी पिता प्रगनेश अपने साथ ले गया. वह अपने बेटे की गलती बताने के बजाय बिंदास उसको ले जाता है. तथ्य पटेल के साथ जगुआर के साथ आर्यन पांचाल, शान सागर, श्रेया, धवनी और मालविका पटेल भी थे। इन पांचों को पुलिस ने हिरासत में लिया और पूछताछ की. ये पांचों एक कैफे में इकट्ठे हुए. ये सभी राजपथ क्लब के लिए रवाना हुए. इनमें से एक लड़की जगुआर की अगली सीट पर बैठी थी। सब एक साथ पढ़ते हैं.

Back to top button